कोल घोटाला मामला : CM ममता के भतीजे और TMC सांसद अभिषेक बनर्जी से करीब 9 घंटे तक ED ने की पूछताछ

Application Launched/Get It Now For Free


सूत्रों की माने तो अभिषेक बनर्जी से  विनय मिश्रा से संबंधों को लेकर कई सवाल पूछे गए.

नई दिल्ली:

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (CM Mamta Banerjee) के भतीजे और टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी (TMC MP Abhishek Banerjee ) से पूछताछ खत्म हो गई है. ईडी ने करीब 9 घंटे पूछताछ की है. बता दें कि सोमवार को करीब 11 बजे अभिषेक बनर्जी दिल्ली के जामनगर प्रवर्तन निदेशालय पहुंचे थे और करीब 9 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद रात करीब 8 बजे निकले. ईडी ने अभिषेक बनर्जी से पूछताछ के लिए सवालों की एक फेहरिस्त बना रखी थी. सूत्रों की माने तो कई सवालों के जबाब दिए लेकिन कई सवालों के जबाब में उन्होंने चुप्पी साधी. सूत्रों की माने तो अभिषेक बनर्जी से  विनय मिश्रा से संबंधों को लेकर कई सवाल पूछे गए.  ईडी ने जानना चाहा कि विनय मिश्रा अभी कहां है? इसके साथ ही विदेश में मौजूद बैंक खातों को लेकर पूछताछ हुई. कोलकाता के थाना बांकुड़ा के एसएचओ अशोक मिश्रा को लेकर सवाल हुए. 

यह भी पढ़ें

कोल घोटाला मामला : पूछताछ के लिए प्रवर्तन निदेशालय ऑफिस पहुंचे ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी

इसके अलावा अनूप माझी उर्फ लाला के अकाउंटेंट नीरज सिंह के यहां से बरामद हुए दस्तावेजों को लेकर पूछताछ हुई. देश और विदेश में मौजूद संपत्तियों को लेकर पूछताछ हुई. साथ ही साल 2019 के अपने डिक्लेरेशन में अभिषेक बनर्जी ने जो जायदादे दिखा रखी हैं उन पर भी सवाल जवाब हुए. 

“सूली पर चढ़ने को तैयार”: मनी लॉन्ड्रिंग जांच पर ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने कहा

इससे पहले मनी लांड्रिंग मामले में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे एवं सांसद अभिषेक बनर्जी (Abhishek Banerjee) सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) के ऑफिस पहुंचे थे. उन्‍होंने कहा, ‘मैं यहां इसलिए आया हूं क्‍यों‍कि जांच एजेंसी (ईडी) ने मुझे समन जारी किया था. मैं जांच एजेंसी के साथ पूरा सहयोग करूंगा. ‘  गौरतलब है कि ईडी ने  राज्य में कथित कोयला घोटाले से जुड़े धन शोधन के एक मामले में पूछताछ के लिए अभिषेक बनर्जी और उनकी पत्नी को पिछले माह समन जारी किया था. अभिषेक (33) लोकसभा में डायमंड हार्बर सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के राष्ट्रीय महासचिव भी हैं. उन्हें मामले के जांच अधिकारी के समक्ष यहां छह सितंबर को पेश होने के लिए समन जारी किया गया था जबकि उनकी पत्नी रुजिरा को धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत इसी तरह का समन भेजकर 1 सितंबर को पेश होने को कहा गया था. रुजिरा से इस मामले में सीबीआई  भी पहले पूछताछ कर चुकी है. 

ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी दिल्ली में ईडी के दफ्तर में पेश हुए



Source link

Categories

error: Content is protected !!